हिन्दी | English
trti.cg@nic.in 0771-2960530          

आदिवासी महोत्सव

"आदि परब"

(छत्तीसगढ़ का जनजातीय सांस्कृतिक महोत्सव)

वित्तीय वर्ष: 2009-10

भारत सरकार जनजातीय कार्य मंत्रालय नई दिल्ली के शत प्रतिशत अनुदान से संस्थान द्वारा रायपुर में दिनांक 19.02.2010 से 21.02.2010 को जनजातीय सांस्कृतिक महोत्सव का आयोजन किया गया,

जिसमें राष्ट्रीय स्तर के विषय विशेषज्ञों की व्याख्यान माला , जनजातीय जीवन पर आधारित छाया चित्र प्रदर्शनी, जनजातीय जीवन पर आधारित डॉक्यूमेंट्री फिल्म प्रदर्शन एवं उरांव, पहाड़ी कोरवा, बिरहोर, गोंड, बैगा , कमार, दण्डामी माड़िया, मुरिया, एवं अबूझमाड़िया जनजातियों के नृत्य तथा गीत आधारित कार्यक्रमों का आयोजन किया गया |


"राष्ट्रीय जनजातीय महोत्सव"

वित्तीय वर्ष: 2016-17

राज्य के धुरवा, दण्डामी माड़िया एवं बैगा नर्तक दल, काष्ठ कलाकारों एवं परंपरागत चिकित्सकों के साथ नई दिल्ली में आयोजित 04 दिवसीय जनजातीय महोत्सव में सहभागिता दी गई |


"छत्तीसगढ़ आदिवासी महोत्सव में सहभागिता"

वित्तीय वर्ष: 2017-18

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा राज्य के प्रथम आदिवासी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी शहीद वीर नारायण सिंह के शहादत दिवस के अवसर पर दिनांक 10 से 11 दिसंबर 2017 तक राजधानी रायपुर में आयोजित छत्तीसगढ़ आदिवासी महोत्सव में संस्थान द्वारा राज्य एवं राज्य के बाहर के आदिवासी सांस्कृतिक दलों के द्वारा प्रस्तुतीकरण के साथ - साथ जनजातीय विषयों पर आधारित सहित्यिक सम्मलेन में सहभागिता दी गई |

साहित्यीक सम्मेलन में राज्य से बाहर के विषय - विशेषज्ञ अतिथियों को विशेष व्याख्यान हेतु आमंत्रित किया गया था राज्य एवं निकटवर्ती राज्य के अनुसंधानकर्ताओं द्वारा कुल 72 शोध - पत्रों के सारांश प्रस्तुतिकरण हेतु संस्थान को प्रेषित किये गए जिसमे उपरोक्त सारांशों की पुस्तिका प्रकाशित की गई |


"विश्व आदिवासी दिवस में सहभागिता"

वित्तीय वर्ष: 2018-19

दिनांक 09.08.2019 को जनजातीय क्षेत्रों के नर्तक दलों का प्रस्तुतिकरण कराया गया |